खाली पड़े प्लाॅट्स में कचरा निस्तारण नहीं होने पर प्लाॅट मालिकों को पट्टे निरस्त सम्बंधी नोटिस जारी करने के निर्देश

जोधपुर, 05 दिसम्बर।

जिला कलेक्टर डाॅ. रविकुमार सुरपुर ने जोधपुर नगर की सफाइ्र व्यवस्था को बिगाड़ने वालों के विरूद्ध सख्त रवैया अपना लिया हैं जिला कलेक्टर ने नगर निगम व जेडीए के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे शहर में खाली पड़े प्लाॅट्स में कचरा एकत्रित होने की स्थिति में प्लाॅट मालिकों के विरूद्ध पट्टा निरस्त करने के नोटिस जारी करने की कार्यवाही की जाए।

    जिला कलेक्टर स्वच्छता निरीक्षण के लिए नियुक्त अधिकारियों के साथ गत सप्ताह किए गए निरीक्षण की समीक्षा बैठक के अध्यक्ष के रूप में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि केवल स्वच्छता सर्वेक्षण सर्वे में जिले का स्थान ऊपर उठाना ही लक्ष्य नहीं है वरन् नगरवासियों को स्वच्छता के लिए जागरूक कर शहर की स्वच्छता बनाए रखने की प्रवृति जगाना व नगरवासियों को स्वच्छता के द्वारा संतुष्ठ करना ही हमारा उद्ेश्य होना चाहिए।

जिला कलेक्टर ने दिए सख्ती के निर्देश

    जिला कलेक्टर ने नगर निगम के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओमप्रकाश कसेरा को निर्देश दिए हैं कि जिन वार्ड प्रभारियों का कार्य संतोषजनक नहीं है उन्हें 16 व 17 सीसीए के तहत चार्जशीट दे व सस्पेंड करें। उन्होंने निर्माणाधीन भवनों की साइट्स पर मलबा व कचरा पाए जाने पर अधिकाधिक शास्ति लगाने के निर्देश दिए। गुलाबसागर को गंदा करने वालों पर प्रतिव्यक्ति एक हजार रूपये की शास्ति लगा कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें। उन्होंने नगर निगम उपायुक्त भंवरसिंह सांदू को विभिन्न हाउसिंग सोसायटी की बैठक बुलाकर सफाई प्रबंधन करने के निर्देश देने को कहा। उन्होंने राजकीय सम्पति का विरूपीकरण करने वालों, उद्यानों, फाउन्टेनों आदि में कचरा फैलाने वालों के विरूद्ध राजकीय सम्पति को हानि पहुंचाने सम्बंधी कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

सफाईकर्मियों की हो हैंडकाउन्ट उपस्थिति

    बैठक में जिला कलेक्टर ने समस्त अधिकारियों को उनके द्वारा आवंटित वार्डो में सफाईकर्मियों की उपस्थिति को कागजी तौर पर नहीं बल्कि हैडकाउन्ट के द्वारा करने के निर्देश दिए। उन्होंने गिरे हुए पेड़ों, पेड़ों की पतियों आदि गार्डन वेस्ट को जलाने के बजाय आॅर्गेनिक फर्टिलाइजर के रूप में प्रयुक्त करने के निर्देश दिए। साथ ही चाय के ठेलों पर प्लास्टिक कपों के बजाय पेपर कप के प्रयोग की सुनिश्चितता के निर्देश दिए।

जिला कलेक्टर ने की अपील

    जिला कलेक्टर ने शहरवासियों से अपील की है कि वे स्वच्छ जोधपुर के मिशन को सार्थक बनाने में सहयोग करें। उन्होंने कहा है कि सभी नगरवासी अपने घर का कचरा प्रातः 10 बजे से पूर्व निगम द्वारा लगाए गए कचरा पात्रों में डाले जिससे 10 बजे के बाद नगर निगम के वाहन द्वारा कचरा डम्पिंग स्टेशन तक पहुंचाने के लिए ले जाया जा सके और अपने शहर को सुंदर बनाए रखने में हम सभी भागीदार बने।

स्वच्छता एप का प्रयोग करें

    नगर निगम आयुक्त ओमप्रकाश कसेरा ने बैठक में स्वच्छता एप्लीकेशन के प्रयोग को अधिकाधिक बढावा देने को कहा। उन्होंने कहा कि स्वच्छता एम्बंधी शिकायत स्वच्छता एप पर डाले। साथ ही शिकायत के निस्तारण के बाद स्वच्छता एप पर अपना पोजीटिव फीडबैक भी दे। अब तक जोधपुर में 622 एक्टिव यूजर्स हैं जिनके द्वारा दर्ज 911 शिकायतों में से 655 शिकायतें निस्तारित की जा चुकी हैं।

    बैठक में एडीएम प्रथम छगनलाल गोयल, एडीएम द्वितीय कुशल कुमार कोठारी, एडीएम सिटी सीमा कविया, जेडीए उपायुक्त चंचल वर्मा, ओमप्रकाश विश्नोई सहित समस्त वार्डो के लिए नियुक्त अधिकारी उपस्थित थे।