जिला स्तरीय स्क्रीनिंग कमेटी के निर्णय लोकसभा परिसीमन क्षेत्र में निवास करने वाले लाइसेंस धारकों

जोधपुर, 14 मार्च।

 जिला निर्वाचन अधिकारी एवं जिला मजिस्टेªट प्रकाश राजपुरोहित के आदेशानुसार लोकसभा चुनाव के दौरान कानून व्यवस्था बनाए रखना एवं स्वतंत्र तथा निष्पक्ष चुनाव कराने की दृष्टि से लोकसभा परिसीमन क्षेत्र ( पुलिस कमिश्नरेट को छोड़करि) में निवास करने वाले ऐसे लाइसेंसधारकों को शस्त्र जमा करवाने आवश्यक है।
    जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जिला विधि परामर्शी तथा जिला स्तरीय स्क्रीनिंग कमेटी में विचार विमर्श कर छूट प्रदान करने अथवा नहीं करने का निर्णय लिया गया। कमेटी के सदस्यों ने गहराई से विचार विमर्श कर लाईसेंससुदा हथियारों को चुनाव में जमा करवाने के संबंध में आवश्यक निर्णय ले लिए गए है।
    कमेटी के निर्णयानुसार जोधपुर में पुलिस कमिश्नरेट क्षेत्र के अलावा जिले के समस्त विधानसभा क्षेत्रों में निवास करने वाले शस्त्र अनुज्ञाधारकों की पहचान की जाएगी तािा जो जेल से जमानत पर रिहा हुए है या जिनकी आपराधिक पृष्ठभूमि रही है अथवा प्रमाणित करने की स्थिति पैदा करने वाले दंगों में लिप्त रहे है। इसके साथ ही ऐसे अनुज्ञाधारी जिनके विरूद्ध आपराधिक मामले में एफ आई आर दर्ज हुई है, अन्वेषण अन्वीक्षा स्तर पर है या आपराधिक मामलें में दोष सिद्धि हुई है या शांति भंग किये जाने के मामले में पाबंद किया हुआ है ऐसे शस्त्र अनुज्ञापत्रधारकों के शस्त्र जमा किए जाएंगे। इसलिए अन्य प्रकरणों में शस्त्र जमा करने के संबंध में संबंधित थानाधिकारी (पुलिस कमिश्नरेट को छोड़कर) द्वारा जिला पुलिस अधीक्षक जोधपुर ग्रामीण के माध्यम से अतिरिक्त जिला मजिस्टेªट (प्रथम) को प्रस्ताव भिजवाए जाने चाहिएं
    आदेशानुसार ऐसे आम्र्स लाइसेंस धारक जो संवेदनशील अतिसंवेदनशील श्रेणी के मतदान केन्द्रों अर्थात एस-4 श्रेणी के मतदान केन्द्रों के अधीन निवास करते है उनके शस्त्र एक्यूमेशन जमा कराए जाएंगे। चुनाव प्रक्रिया के दौरान कुछ अनुज्ञपत्रकारों द्वारा स्वंय की चुनाव कार्यो में अत्यधिक व्यस्तता व भ्रमण के चलते व सुरक्षा की दृष्टि से स्वेच्छा से शस्त्र जमा करने के भी आवेदन पत्र प्राप्त होते हैं ऐसे प्रकरणों में स्वेच्छा से चुनाव अवधि में शस्त्र जमा करवाने के आवेदन प्राप्त होते है, ऐसे प्रकरणों में स्वेच्छा से चुनाव अवधि में शस्त्र जमा करवाने के आवेदन पर संबंधित थानाधिकारी द्वारा शस्त्र जमा कर लिए जाएंगे।
    कमेटी में यह भी निर्णय लिया गया कि निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान कानून एवं सुरक्षा व्यवस्था के लिए तैनात सीमा सुरक्षा बल अर्द्धसैनिक बल, सशस्त्र पुलिस, नागरिक सुरक्षा, होमगार्डस्, के अधिकारी कर्मचारी सहित बैंक सुरक्षाकर्मी, पंजीकृत कंपनियों के लाइसेंसधारक जिनके संस्थागत सुरक्षा के लिए अनुज्ञापत्र जारी है अथवा ऐसे व्यक्ति जिन्हे धार्मिक परंपरा के अनुसार किसी श्रेणी का शस्त्र रखने की मान्यता है अथवा ऐसे व्यक्ति जिन्हे धार्मिक परंपरा के अनुसार किसी श्रेणी का शस्त्र रखने की मान्यता है अथवा केन्द्रीय या राज्य सरकार के कार्मिक जिन्हे अपने दायित्व का निर्वहन करने के लिए शस्त्र धारित करने के लिए अधिकृत है एवं राईफल एसोसिएशन तथा स्पोर्टसमैन जो राईफल एसोसिएशन के सदस्य होकर विभिन्न प्रतियोगिता में भाग लेते है इनके शस्त्र जमा करवाने में छूट होगी। ऐसे व्यक्ति जो अन्य राज्यों अथवा जिलो से लाइसेंस प्राप्त कर सक्षम अधिकारी को सूचना देते हुए जिले में निवास कर रहे हैं संबंधित थानाधिकारी ऐसे व्यक्तियों की पहचान नियमानुसार कार्यवाही करते हुए उनके शस्त्र मय एक्यूमेशन जमा करने की कार्यवाही सुनिश्चित करेंगी ।आपत्ति है वे अपनी परिवेदना एडीएम (प्रथम) को प्रस्तुत कर सकते है।